संबंध कभी भी जीतकर नहीं निभाए जा सकते…

संबंध कभी भी जीतकर
नहीं निभाए जा सकते…!!

संबंधों की खुशहाली
झुकने और सहने से बढती हैं..

0

Article Categories:
VISHWAS
Likes:
0

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *